Our Breeds

Large White Yorkshire

यह छोटे आकार का जानवर है। यह भारत में इस्तेमाल होने वाली सुअर की सबसे आम नस्ल है। यह अपने भारी दूध उत्पादन और कम वसा वाले मांस उत्पादन के लिए जाना जाता है। शरीर सफेद रंग का होता है जिसके शरीर पर काले रंग के धब्बे होते हैं। उनके लंबे पैर, मध्यम लंबे सिर, थोड़ा उखड़ा हुआ चेहरा, चुभने वाले कान और हल्के और लंबे कंधे होते हैं। परिपक्व शूकर का वजन 400-450 किग्रा होता है। इसका उपयोग मुख्य रूप से क्रॉस ब्रीडिंग के उद्देश्य से किया जाता है। इसकी मजबूत शारीरिक प्रकृति के कारण यह नस्ल विभिन्न जलवायु परिस्थितियों में अनुकूल हो जाती है।

It is a small sized animal. It is the most common breed of pig used in India. It is known for its heavy milk production and for low fat content meat production. Body is white in color having black pigmented spots on body. They have longer legs, moderately long head, slightly dished face, pricked ears and have light and long shoulders. The weight of mature bow is 300-400kg and mature sow is 230-320kg. It is used mainly for the purpose of cross breeding. It has a hardy nature which gets well adapted to different climatic conditions.

Landrace

यह छोटे आकार का जानवर है। यह भारत में इस्तेमाल होने वाली सुअर की बहुत अच्छी नस्ल है। यह नस्ल अपने भारी दूध उत्पादन और कम वसा वाले मांस के उत्पादन के लिए जानी जाती है। शरीर सफेद रंग में गुलाबी रंग लिये होता है जिसके शरीर पर कभी कभी काले रंग के धब्बे भी दिखाई देते हैं। उनके लंबे पैर, मध्यम लंबे सिर, थोड़ा उखड़ा हुआ चेहरा, बड़े बड़े कान होते हैं जो हमेशा आँखों के ऊपर पड़े रहते हैं , ऐसा लगता है मानो दो छोटे हाथो वाले पंखे हों इसलिए इस नस्ल के शूकरों को हैंगिंग कानों की वजह से भी जाना जाता है। इनके कंधे मजबूत होते हैं। परिपक्व लेंडरेस शूकर का बजन भी लगभग 350-400 किलो तक पहुँच जाता है। व्यापारिक रूप से पिग फार्मिंग करने के लिये यह नस्ल बहुत ही शानदार मानी जाती है। मौसम के हिसाब से इस नस्ल को सर्दियाँ बहुत पसंद होती हैं।

It is a small sized animal. It is the most common breed of pig used in India. It is known for its heavy milk production and for low fat content meat production. Body is white in color having black pigmented spots on body. They have long legs, medium long head, slightly ruffled face, large ears which are always lying above the eyes, it seems as if there are fans with two small hands, hence this breed of pigs is also known because of hanging ears. Their shoulders are strong. The weight of mature landrace pig also reaches about 350-400 kg. This breed is considered very excellent for commercial pig farming. According to the season, this breed likes winters very much.

Hybrid F1

जब किसी भी दो अलग अच्छी नस्लों को क्रॉस कराया जाता है तो उनसे अगली जेनरेशन में जो भी पिग्लेट्स पैदा होते हैं उन्हें हाईब्रिड F-1 के नाम से जाना जाता है। हमारे फार्म में हाईब्रिड F-1 नस्ल लार्ज व्हाइट यॉर्कशायर और लेंडरेस नस्ल से बनाई गई है। इस नस्ल के जानवर ग्रोथ तेजी से करते हैं और यह भी देखा गया है कि उनका FCR भी बेहतर होता है। वयस्क होने पर इस नस्ल का बजन भी 350-450 किलो ग्राम तक आसानी से पहुँच जाता है। भारत में भी यह नस्ल व्यापारिक दृष्टि से बहुत ही अच्छा रिजल्ट देती है। इस नस्ल के जानवरों के शरीर पर बाल बहुत ही छोटे और काम पाए जाते हैं तथा इनका रंग भी सफ़ेद और गुलाबी मिक्स होता है , कभी कभी इनके शरीर पर कुछ काले धब्बे भी देखने को मिलते हैं।

When any two different good breeds are crossed, the next generation of piglets produced from them is known as Hybrid F-1. The hybrid F-1 breed at our farm is produced from the Large White Yorkshire and Landres breed. The animals of this breed grow rapidly and it has also been observed that their FCR is also better. At adulthood, the weight of this breed also reaches 350-450 kg easily. In India also this breed gives very good results from commercial point of view. The hair on the body of the animals of this breed is found to be very short and work and their color is also white and pink mix, sometimes some black spots are also seen on their body.

 

Duroc

ड्यूरोक नस्ल कई सारी नस्लों को क्रॉस करवा कर यूनाइटेड स्टेट ऑफ अमेरिका में तैयार करी गई थी। इस नस्ल के जानवरों का रंग डार्क चॉकलेटी ब्राउन या फिर गोल्डन येलो होता है। इस नस्ल के कान भी बड़े और झूलते हुए होते हैं। इस नस्ल का सबसे ज्यादा फायदा क्रॉस ब्रीडिंग में होता है , इस नस्ल का लिटर साइज बहुत अच्छा माना जाता है जब ड्यूरोक नस्ल के बोर को दूसरी नस्ल की मादाओं के साथ क्रॉस कराया जाता है। ड्यूरोक नस्ल अमेरिका में व्यापारिक स्टार पर दूसरी सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाली नस्ल है , आजकल भारत में भी ड्यूरोक नस्ल को काफी पसंद किया जाने लगा है।

The Duroc breed was created in the United States of America by crossing several breeds. The color of the animals of this breed is dark chocolate brown or golden yellow. The ears of this breed are also large and dangling. The biggest advantage of this breed is in cross breeding, The litter size of this breed is considered very good when bores of Duroc breed are crossed with females of other breeds. Duroc breed is the second most used breed on commercial star in America, nowadays Duroc breed is becoming very much liked in India too.

Hampshire

हेम्पशायर नस्ल को सबसे पहले इंग्लैंड में कई ब्रीड्स को आपस में क्रॉस करा कर तैयार किया गया था , सन 1825 में इस हेम्पशायर नस्ल को अमेरिका में इमारत करके लाया गया था फिर अमेरिका में इस ब्रीड को और भी ज्यादा सुधारा गया उसके बाद अमेरिकन पिगरी में इस नस्ल का बहुत अच्छी तरह से उपयोग होने लगा। इस नस्ल के कान मुख्य रूप से काले रंग के पाए जाते हैं और शरीर पर एक सफ़ेद पट्टी दिखाई देती है। आजकल भारत में भी इस नस्ल का फार्मिंग में इस्तेमाल होने लगा है आमतौर पर दक्षिण भारत और उत्तरपूर्व के भारतीय राज्यों में इसका प्रयोग बहुत अच्छी तरह से किया जा रहा है। यह नस्ल भी वयस्क होने पर 350 से 400 किलो ग्राम तक बजन कर लेती है।

The Hampshire breed was first prepared in England by crossing several breeds, in 1825 this Hampshire breed was brought to America by building, then in America this breed was further improved after that in American piggy This breed began to be used very well. The ears of this breed are mainly black in color and a white stripe is visible on the body. Nowadays this breed has started being used in farming in India as well, generally it is being used very well in the Indian states of South India and Northeast. This breed also weighs 350 to 400 kg when it becomes an adult.

Open chat
1
WhatsApp Pig Farming
Hello👋
How Can I help You?